Narada case: ईडी ने बढ़ाई सक्रियता, चार लोगों को भेजा समन


सारधा चिटफंड घोटाले की जांच को लेकर सीबीआइ की बढ़ी तत्परता के बाद अब नारद स्टिंग ऑपरेशन की जांच को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी सक्रियता बढ़ा दी है. कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी की पत्नी रत्ना चटर्जी, राज्य के उपभोक्ता मामलों के मंत्री साधन पांडे की बेटी श्रेया पांडे समेत चार लोगों को नोटिस भेजकर पूछताछ के लिए छह से 17 जून के बीच हाजिर होने को कहा गया है.

गौरतलब है कि 2014 में नारद स्टिंग मामले में मैथ्यू सैमुअल से रुपये लेने का आरोप तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं व मंत्रियों पर लगा था. 2016 में रुपये लेने के वीडियो फुटेज को वेबसाइट पर डाल दिया गया था, जिसमें उस वक्त कोलकाता के मेयर रहे शोभन चटर्जी को रुपये लेते दिखाई पड़ रहे हैं.

इस मामले में ईडी ने पूर्व मेयर से कई मर्तबा पूछताछ की थी. उन्होंने ईडी को बताया था कि आय-व्यय और संपत्ति की देखभाल उनकी पत्नी रत्ना चटर्जी करती हैं. इसके बाद ईडी ने रत्ना को सीजीओ कांप्लेक्स तलब कर पूछताछ की थी. इस दौरान कुछ कागजात भी जमा कराए गए थे. अंतिम बार रत्ना को गत वर्ष दिसंबर के आखिरी सप्ताह में तलब किया था. उस वक्त उन्हें आय-व्यय व संपत्ति से जुड़े कई और दस्तावेज जमा करने के निर्देश दिए गए थे, मगर उन्होंने जमा नहीं किए थे.

सूत्रों के अनुसार पूर्व में मांगे गए कागजात को जमा करने एवं पूछताछ के लिए ईडी ने रत्ना चटर्जी को नोटिस भेजा है. इसके अलावा रत्ना के करीबी व्यापारी अभिजीत गांगुली, मलय भट्टाचार्य तथा राज्य के उपभोक्ता मामलों के मंत्री साधन पांडे की बेटी श्रेया पांडे को भी नोटिस भेजा गया है.

नोटिस मिलने की बात स्वीकार करते हुए रत्ना ने कहा कि ईडी ने उनसे दो कागजात मांगे हैं. वह जांच में ईडी का पूरा सहयोग करेंगी. वहीं, श्रेया पांडे के अनुसार वह अभी विदेश में हैं. उन्हें नोटिस के बाबत जानकारी नहीं है. गौरतलब है कि नारद स्टिंग कांड के बाद से ही शोभन चटर्जी का अपनी पत्नी रत्ना के साथ तलाक का मामला कोर्ट में चल रहा है.

No comments