कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, देश कह रहा है अब बस! बहुत हुआ


सिख विरोधी दंगों को लेकर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा की ‘‘हुआ तो हुआ’’ वाली टिप्पणी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर हमला बोला है. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने मंगलवार को कहा कि देश अब तंग आकर कह रहा है - ‘‘बस! अब बहुत हुआ.’’ मोदी ने कहा कि पित्रोदा का बयान कांग्रेस पार्टी के उस अहंकार को दर्शाता है, जिससे वह सत्ता में रहकर किए गए अपने गलत कामों से पल्ला झाड़ती रही है. 

उन्होंने सासाराम में एक रैली में कहा कि टीवी कैमरों के सामने ‘नामदार’ (राहुल गांधी) के ‘गुरू’ (पित्रोदा) द्वारा बोले गए तीन शब्द ‘‘हुआ तो हुआ’’ दरअसल उनके रवैये को दर्शाते हैं. उनका शासन जब-जब भ्रष्टाचार के आरोपों से बदनाम हुआ तो उन्होंने इसी तरह उन्हें खारिज किया. मोदी ने कहा कि देश अब तंग आ चुका है और चीख-चीखकर कह रहा है - ‘‘अब बहुत हुआ!’’ उन्होंने कहा कि लोग उनकी वंशवादी राजनीति, उनके भ्रष्टाचार और उनके अहंकार से तंग आ चुके हैं. 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘23 मई को जब वोटों की गिनती होगी तो संदेश बहुत साफ होगा.’’ मोदी की इस टिप्पणी पर भीड़ से आवाज आई - ‘‘फिर एक बार मोदी सरकार.’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का अहंकार उस वक्त भी दिखा था जब उसने आपातकाल लगाया था, समाजवादी नेता जयप्रकाश नारायण का अपमान किया था और इतिहास से भीमराव आंबेडकर के योगदान को मिटाने की कोशिश की थी. 

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के राष्ट्रीय जनता दल (राजद) पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, ‘‘लेकिन जेपी और आंबेडकर की विरासत आगे बढ़ाने की कसमें खाने वाले बिहार में कांग्रेस के झंडे ढो रहे हैं.’’ लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष और सासाराम सीट से कांग्रेस उम्मीदवार मीरा कुमार का नाम लिए बगैर मोदी ने कहा कि पूर्व उप-प्रधानमंत्री दिवंगत बाबू जगजीवन राम (मीरा कुमार के पिता) को ‘‘असहनीय अपमान’’ से गुजरना पड़ा था, जिसके कारण उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी. 

मोदी ने कांग्रेस पर यह आरोप भी लगाया कि वह अपने शासनकाल के दौरान पाकिस्तान से संचालित आतंक की गोद में जाकर बैठ गई और ‘‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’’ के साथ जाकर खड़ी हो गई. उन्होंने कहा कि इन्हीं वजहों से देश अब कह रहा है - अब बहुत हुआ!

No comments