मोदी ने कसा तंज- हार के डर से हताश दीदी मुझे जेल भेजने की धमकी दे रही हैं


पश्चिम बंगाल के मथुरापुर और दमदम में गुरुवार को जनसभा संबोधित करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सरकार पर जोरदार प्रहार किया. उन्होंने कहा कि पिछले 3-4 दिनों से यहां जो हो रहा है, वह आप सभी देख रहे हैं.

टीएमसी के गुंडों ने जो नरक यहां बना रखा है, जिस प्रकार की हिंसा यहां फैला रखी है, उससे गणतंत्र बदनाम हुआ है. उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल पुलिस राज्य सरकार के साथ मिलकर मूर्ति तोड़ने के साक्ष्यों को मिटाने का प्रयास कर रही है. मोदी ने कहा कि अपनी आसन्न पराजय से हताश ममता बनर्जी ने चुनाव के बाद मुझे सींखचों के पीछे डालने की धमकी दी है. उन्होंने दावा किया कि ये तृणमूल कांग्रेस के गुंडे थे, जो तोड़फोड़ में शामिल थे.

 ये ही वे लोग थे जिन्होंने विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा तोड़ी. पुलिस अधिकारी तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को बचाने के लिए इस घटना के सबूतों को मिटाने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि प्रतिमा तोड़ने के कृत्य में शामिल लोगों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए. 

मालूम हो कि कोलकाता में मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी. इस संघर्ष के दौरान 19 वीं सदी के समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा तोड़ दी गयी थी. मोदी ने आरोप लगाया कि दीदी अपनी आसन्न पराजय से चैन खो बैठी हैं. 

वह इतनी हताश हो गयी हैं कि धमकी दे रही हैं कि वह मुझे सलाखों के पीछे डाल देंगी. बनर्जी के भतीजे और तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी को निशाना बनाते हुए प्रधानमंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि बुआ-भतीजा ‘जोड़ी' की रूचि केवल बंगाल को लूटने में है. 

No comments