चीन और भारत के बाद अमेरिका में आई सबसे ज्यादा आपदाएं: संयुक्त राष्ट्र


संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि वर्ष 1995 के बाद से चीन और भारत के बाद से अमेरिका सबसे ज्यादा प्राकृतिक आपदाओं से ग्रसित रहा है और उन्होंने ऐसी आपदाओं से बचने का तरीका निकालने तथा इसके खतरे को कम करने का आह्वान किया।
गुतारेस ने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं टेक्सास से लेकर बेंगलुरु, भारत, नेपाल और सिएरा लियोन तक उन सभी लोगों के प्रति एकजुटता व्यक्त करता हूं जो हाल ही के सप्ताहों में अभूतपूर्व घटनाओं के विध्वंसकारी प्रभावों से जूझ रहे हैं।’’ संयुक्त राष्ट्र हरसंभव तरीके से राहत प्रयासों का समर्थन करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1970 के बाद से प्राकृतिक आपदाओं की संख्या में चार गुना वृद्धि हुई है।
उन्होंने कहा, ‘‘वर्ष 1995 से चीन और भारत के बाद अमेरिका में सबसे ज्यादा आपदाएं आई है। गत वर्ष अचानक आई आपदाओं से दो करोड़ 42 लाख लोग विस्थापित हुए जो संघर्ष और हिंसा से विस्थापित होने वाले लोगों से तीन गुना ज्यादा है। यहां तक कि मौजूदा बाढ़ से पहले की इस वर्ष की शुरूआती रिपोर्ट के अनुसार प्राकृतिक आपदाओं से 2,087 लोगों की मौत हो चुकी है। एक सवाल का जवाब देते हुए गुतारेस ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

No comments